मानवता हेतु जीने वाले महापुरुषों का इतिहास

मानवता हेतु जीने वाले महापुरुषों का इतिहास

जिस प्रकार एक कम्पनी कोई एलेक्ट्रानिक सामान बनाती है तो उसके प्रयोग करने हेतु एक गाइड बुक भी दे ...

जहां नाइट ड्रेस कफन होगा

जहां नाइट ड्रेस कफन होगा

संभव है कि आप इस लेख को अपने घर में बैठ कर पढ़ रहे हों, या कार्यालय में बैठे इसका अध्ययन कर रहे ...

शिफ़ाअत क़ुरआन और हदीस के दर्पण में

शिफ़ाअत क़ुरआन और हदीस के दर्पण में

 शिफाअत के विषय को मुस्लिम समाज में बहुत कम समझने की कोशिश हुई है किसके कारण इस सम्बन्ध में विभ ...

तौहीदे रुबूबियत

तौहीदे रुबूबियत

हम अपने मालिक और सृष्टिकर्ता को तौहीदे रुबूबियत, तौहीदे उलूहियत और तौहीदे अस्मा व सिफ़ात के माध ...

जहन्नम किन लोगों का आवास होगा ?

जहन्नम किन लोगों का आवास होगा ?

जहन्नम सरकशों का घर, अपराधियों का निवास , और अत्याचारियों  का आवास होगा।, लोग यहाँ चींखेंगे पुक ...

जहन्नम (नरक) से डरना चाहिये

जहन्नम (नरक) से डरना चाहिये

अल्लाह तआला ने दुनिया की रचना की और दुनिया में लोगों को बसाया और बसाने के बाद समय समय में अपने ...

किन लोगों को जन्नत मिलेगी ?

किन लोगों को जन्नत मिलेगी ?

जिन व्यक्तियों ने इबादत की सम्पूर्ण क़िस्में केवल एक अल्लाह के लिए विशेष की होंगी और अल्लाह के ...

जन्नत की कुछ नेमतों का वर्णन

जन्नत की कुछ नेमतों का वर्णन

वास्तविक्ता तो यह कि कोई व्यक्ति जन्नत में उपस्थित वस्तुओं का दुनिया की वस्तुओं से अनुमान नहीं ...

जन्नत में प्रवेश करने वाला प्रथम दल

जन्नत में प्रवेश करने वाला प्रथम दल

जन्नत (स्वर्ग) उस हसीन और अति सुन्दर, मनोरम, हृदय ग्राही, ऐश- इशरत से भरी हुई, सुख-चैन, राहत और ...

तौहीद के प्रति हम पर क्या अनिवार्य है ?

तौहीद के प्रति हम पर क्या अनिवार्य है ?

तौहीद के लिए ही पूरे संसार की रचना हुई है, इस लिए इसे सही तरीके से समझना और इसके  विरोध  आस्थाओ ...

दो जगत की यात्रा

दो जगत की यात्रा

आज हम सब अपने मन एवं मस्तिष्क में दो जगत की यात्रा करेंगे और वहाँ जो चीज़ें हैं उन्हें देखने के ...

फ़र्ज़ नमाज़ों की संख्या और उसके पढ़ने का समय

फ़र्ज़ नमाज़ों की संख्या और उसके पढ़ने का समय

अल्लाह तआला ने मुसलमानों पर दिन और रात में पांच नमाज़ें अनिवार्य किया है जिसका बयान संक्षिप्त म ...

नमाज़

नमाज़

स़लात (नमाज़) का शब्दकोश के अनुसार अर्थ दुआ है। स़लात (नमाज़) की परिभाषाः कुछ विशेष शलोकें और व ...

भविष्य का ज्ञान केवल अल्लाह तआला को ही है।

भविष्य का ज्ञान केवल अल्लाह तआला को ही है।

यह इस्लाम धर्म की महत्वपूर्ण मूल बातों में से है कि अल्लाह तआला ने भविष्य का ज्ञान अपने पास सुर ...

तौहीद का महत्व

तौहीद का महत्व

तौहीद शब्द अरबी भाषा का शब्द है, वह्हद युवह्हिदु का मस्दर (स्रोत) है, जिसका अर्थः एक मानना, यकत ...

क्या मानव भाग्य के आगे विवश है या उसे चयन की शक्ति है ?

क्या मानव भाग्य के आगे विवश है या उसे चयन की शक्ति है ?

क्या मानव भाग्य के आगे विवश है या उसे चयन की शक्ति है भाग्य को सही तरीके से समझने के लिए इन चार ...

भाग्य (क़िस्मत) के अच्छे या बुरे पर ईमान

भाग्य (क़िस्मत) के अच्छे या बुरे पर ईमान

(6)   ईमान का छठा स्तम्भः   भाग्य (क़िस्मत) के अच्छे या बुरे पर ईमान है। भाग्य का अर्थात यह कि ...

इस्लाम के स्तम्भ

इस्लाम के स्तम्भ

इस्लाम शब्द का अर्थ होता है ‘सुपुर्दगी, आत्मसमर्पण, अम्नों शान्ति, सुरक्षित आदि अर्थात अपने आपक ...

क़ब्र की नेमतें या उसकी सज़ाएं

क़ब्र की नेमतें या उसकी सज़ाएं

जब लोग शव को धर्ती में गाड़ कर आनेलगते हैं और चालिस कदम दूर आजाते हैं तो दो फरिशेते उस के पास आ ...

आखिरत के दिन पर विश्वास

आखिरत के दिन पर विश्वास

संसारिक जीवन के समाप्त होने के बाद पारलोकिक जीवन में प्रवेश होने पर पुख्ता और कठोर आस्था रखना ह ...